विदारीकंद के सेवन के अद्भुत फायदे -Vidarikand ke fayde hindi mein

Vidarikand ke fayde hindi mein


नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका औषधि और योग में। दोस्तों आज मैं आपके लिए ले के आया हूँ आयुर्वेद के पिटारे से एक बहुत ही चमत्कारी औषधि जिसका नाम है, विदारीकंद। दोस्तों हम में से बहुत से लोगों ने विदारीकंद का नाम सुना होगा लेकिन बहुत कम लोग विदारीकंद के औषधीय फायदों के बारे में जानते है, आइए आज इस अनोखी औषधि के बारे में जान लेते है सबकुछ विस्तार पूर्वक...

विदारीकंद का परिचय :

दोस्तो विदारीकंद Fabaceae कुल का एक पौधा है। इसे संस्कृत भाषा में क्षीरकंद ,विदार और पायोलता आदि कहते हैं।
इसे अंग्रेजी भाषा में Tuberous Honeysuckle कहा जाता है।
दोस्तों विदारकंद घोड़ों को अत्यंत प्रिय है, घोड़े इसे बड़े चाव से खाते हैं इसलिए इसका एक अन्य नाम वाजीप्रिया भी है।
विदारीकंद देखने में हल्की भूरी अथवा स्वेत रंग की होती है। इसका स्वाद मधुर होता है।

विदारीकंद के लाभ :

दोस्तों विदारीकंद का प्रयोग मुख्य रूप से पुरूषों की अंदरूनी दुर्बलता दूर करने के लिए किया जाता है। यह एक शुक्र वर्धक, स्तन वर्धक और बल वर्धक बूटी है।
आइए जानते हैं विदारीकंद कौन कौन से रोगों को ठीक करती हैं

  • यौन दुर्बलता को दूर करे विदारीकंद

जो व्यक्ति लंबे समय से यौन दुर्बलता से जूझ रहे है, चाहे वो स्त्री हो या पुरुष उनके लिए विदारीकंद का सेवन करना किसी रामबाण से कम नहीं है।विदारीकंद का सेवन शरीर में रक्त,मांस और वीर्य की वृद्धि करता है। इसका लगातार सेवन यदि एक माह तक किया जाय तो शरीर बहुत बलवान बन जाता है।

  • विदारीकंद बढ़ाए स्तनों में दूध का उत्पादन 

जी हां दोस्तों, विदारीकंद महिलाओं के लिए भी लाभदायक औषधि साबित हुई है।प्रसव के पश्चात जिन महिलाओं को उनके स्तनों में पर्याप्त दूध नहीं उतरता उनको विदारिकंद के सेवन की सलाह दी जाती है।
इसके लिए विदारीकंद की लगभग 5 ग्राम मात्रा दूध के साथ सेवन करने की सलाह दी जाती है। इस नुस्खे का प्रयोग करने से मात्र 2 से 3 दिन में लाभ मिलना प्रारंभ हो जाता है व स्तनों में समुचित दूध निर्माण शुरू हो जाता है।

  • विदारीकंद करे खून की कमी को दूर

जी हां दोस्तों विदारीकंद शरीर में रक्ताल्पता अर्थात खून की कमी को भी दूर करने की क्षमता रखता है। ऐसे व्यक्ति जो हमेशा थकान से परेशान रहते हैं या जिन्हें थोड़ा ही काम करने पर सांस फूलने लगती है, यदि वह विदारीकंद का सेवन करते हैं तो उनकी यह समस्या जल्द समाप्त हो जाती है। विदारीकंद का सेवन करने से शरीर में धीरे-धीरे रक्त निर्माण की प्रक्रिया में सुधार होता है और जिसके परिणाम स्वरूप शारीरिक कमजोरी दूर होने लगती है।

  • विदारीकंद करें मासिक धर्म में अति रक्त स्त्राव को नियंत्रित

जी हां दोस्तों विदारीकंद महिलाओं के अनियमित मासिक धर्म और अति रक्त स्त्राव अर्थात आवश्यकता से अधिक रक्त स्त्राव को ठीक करती है। इसके साथ साथ इस काल में होने वाली पीड़ा को भी कम करती है।

  • विदारीकंद करे चेहरे के दाग धब्बों को दूर

जी हां दोस्तों विदारीकंद चेहरे पर होने वाले मुंहासों खुजली पर दाग धब्बे को भी दूर करती है। विदारीकंद शरीर के रक्त को शुद्ध बनाकर मुहासे दाग धब्बे खुजली आदि को पूरी तरह से ठीक कर देती है।


Disclaimer: इस लेख में दी गयी समस्त जानकारी केवल सूचना के उद्देश्य से है , हम किसी भी तथ्य के पूर्णतः सत्य या मिथ्या होने का दावा नहीं करते। दी गयी जानकारी का स्त्रोत विभिन्न पुस्तकें, स्वास्थ्य-सलाहकार  व कुछ व्यक्तियों के अनुभव हैं, पाठक कृपया स्व-विवेक से काम लें , किसी भी नुकसान के प्रति हमारी किसी भी प्रकार से कोई जिम्मेवारी नहीं होगी, धन्यवाद।

Tags: Vidarikand ke fayde, vidarikand, vidarikand ke fayde in hindi, vidarikand root, vidarikand ka paudha

Post a Comment

और नया पुराने