-->

Ad

Body building at home hacks


दोस्तों अक्सर आपने सुना होगा कि शाकाहारी लोग अपनी बॉडी नहीं बना सकते है। लोगों का मानना है कि जल्दी मसल्स बनाने है तो आपको मांसाहारी भोजन- जैसे मांस मछली अंडा आदि खाने की आवश्यकता होती है। दुबले पतले लोगों को देखकर के ही लोग यह अंदाजा लगाने लगते हैं कि वह व्यक्ति शाकाहारी होगा।


लेकिन दोस्तों वास्तव में ऐसा बिल्कुल नहीं है। शाकाहारी भोजन में ऐसे बहुत से पदार्थ है जिनका सेवन करके आप अपनी बॉडी घर बैठे कुछ ही महीनों में बना सकते हैं।


आइए जानते हैं कि घर पर मस्कुलर बॉडी बनाने के लिए हम अपने भोजन में ऐसे कौन से खाद्य पदार्थ शामिल करें जिससे हमें तेजी से लाभ मिले और हमारे शरीर को कोई हानि भी ना हो।


प्रोटीन से भरपूर डाइट लें

जैसा कि हम सभी जानते हैं हमारे शरीर में कोशिकाओं के विभाजन के फल स्वरुप टूट-फूट होती रहती है। इस टूट-फूट की मरम्मत करने हेतु हमारे शरीर को प्रोटीन की अत्यधिक आवश्यकता होती है।

वास्तव में मसल्स ग्रोथ करने के लिए मसल्स का टूटना आवश्यक होता है। मसल्स की मरम्मत करने के हेतु अच्छी गुणवत्ता वाले प्रोटीन की आवश्यकता भोजन से अवश्य पूरी होनी चाहिए।

जो व्यक्ति जिम जाते हैं और शारीरिक व्यायाम करते हैं उनके शरीर में मसल्स की टूट-फूट अधिक होती है। जिसको रिपेयर करने के लिए वह तरह-तरह के प्रोटीन पाउडर लेते हैं।


किंतु आप प्रोटीन पाउडर ना लेकर सोयाबीन, दूध, मूंगफली आदि से भी अच्छी मात्रा में और अच्छी गुणवत्ता का प्रोटीन प्राप्त कर सकते हैं।


साबूदाना के फायदे और नुकसान ( sabudana ke fayde)

हमारे शरीर के पाचन के हिसाब से व्हे प्रोटीन बहुत अच्छा माना जाता है। इसे मट्ठे को डीहाइड्रेट करके बनाया जाता है। शरीर में यह बड़ी सरलता से अवशोषित कर लिया जाता है। इसे एक सुरक्षित प्रोटीन का स्रोत माना जाता है।


वनस्पति दूध का बॉडी बिल्डिंग में प्रयोग

जी हां दोस्तों वनस्पति दूध जैसे सोयाबीन के दूध आदि का प्रयोग भी करके बॉडी बिल्डर्स अपनी बॉडी को बनाते हैं। यह पाचन में आसान और सुरक्षित प्रोटीन का स्रोत होता है। इसके अलावा मूंगफली का मक्खन (Peanut Butter) और उसका दूध भी बॉडी बिल्डिंग में प्रयोग किया जाता है।


बच्चों के लिए जायफल के फायदे -Nutmeg Benefits for Children and Babies in Hindi

  • बॉडी बिल्डिंग के लिए पीनट बटर का प्रयोग

जैसा कि हम सभी जानते हैं पीनट बटर प्रोटीन से भरपूर एक सुपाच्य खाद्य पदार्थ है। यह स्वाद में तो उत्तम होता ही है इसके साथ ही साथ यह हमारे शरीर की मसल्स ग्रोथ में बहुत सहायक होता है।

  • बॉडी बिल्डिंग में केले का प्रयोग

शायद ही कोई ऐसा बॉडीबिल्डर होगा जो अपनी डाइट में केले का प्रयोग नहीं करता होगा। प्रति 100 ग्राम केले में लगभग 1.5 ग्राम प्रोटीन, 2.6 ग्राम डाइटरी फाइबर, 14% विटामिन सी और 358 मिलीग्राम पोटैशियम होता है।

दूध के साथ केले का मिश्रण तो बहुत ही वरदान साबित होता है। इसीलिए लगभग हर बॉडीबिल्डिंग करने वाला व्यक्ति Banan Shake का प्रयोग अवश्य करता है।

  • बॉडी बिल्डिंग के लिए अंकुरित बीजों (sprouts) का प्रयोग

शरीर की मांसपेशियों के अच्छी ग्रोथ के लिए अंकुरित बीजों या स्प्राउट्स का प्रयोग करना बहुत लाभदायक माना जाता है। इनसे प्रोटीन प्राप्त करने के लिए चना, मूंगफली, मूंग, सोयाबीन और गेहूं आदि को अंकुरित करके खाया जाता है।

अक्सर स्प्राउट्स या अंकुरित बीजों का प्रयोग सुबह के नाश्ते में करना लाभदायक होता है। मात्र मुट्ठी भर अंकुरित बीज हमारी दिनभर की प्रोटीन की आवश्यकता को पूरा करने में सक्षम होते हैं।

Safed Musli ke fayde aur nuksan; सफेद मुसली के औषधीय गुण

अंकुरित बीजों में प्रोटीन के साथ-साथ फाइबर की अच्छी खासी मात्रा प्राप्त हो जाती है जो हमारे पेट को साफ करने के लिए बहुत जरूरी होती है।

  • बॉडी बिल्डिंग के लिए ड्राई फ्रूट्स का प्रयोग

घर पर आसान तरीके से बॉडीबिल्डिंग करने के लिए ड्राई फ्रूट्स का भी प्रयोग किया जा सकता है। कुछ ड्राई फ्रूट्स जैसे बादाम अखरोट काजू किशमिश छुआरा चिलगोजा आदि बॉडी बिल्डिंग के लिए वरदान माने गए हैं। प्रोटीन, विटामिन और मिनरल्स के साथ-सथ इनमें ओमेगा फैटी एसिड की अच्छी मात्रा भी प्राप्त हो जाती है। यह मसल्स ग्रोथ में बहुत ही सहायक होती है।

सतावरी के गुप्त फायदे। मर्दों और महिलाओं के लिए

  • बॉडी बिल्डिंग के लिए आलू और शकरकंद का प्रयोग

जी हां दोस्तों बिल्कुल सही सुना आपने बॉडी बिल्डिंग के लिए आलू और शकरकंद का भी खूब प्रयोग किया जाता है। आलू में अच्छी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट्स उपलब्ध होते हैं इसलिए शारीरिक व्यायाम के लिए यह एक ईंधन का काम करता है।

इसके साथ ही साथ आलू में स्टार्च और पोटेशियम भी उपस्थित होता है जो हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में भी सहायक होता है।

अच्छे स्वास्थ्य के लिए 10 बेहतरीन फल (Top 10 Best Fruits for Health and Beauty)

आलू की ही एक मीठी प्रजाति शकरकंद में प्राकृतिक शर्करा पाई जाती है। आलू की तुलना में यह अधिक ऊर्जा प्रदान करती है। किंतु शकरकंद विशेष मौसम में ही प्राप्त होती है।

यह मात्रा में कम लेने के बावजूद भी पर्याप्त ऊर्जा प्रदान करती है। इसलिए वे सभी लोग जो बॉडीबिल्डिंग करते हैं उन्हें आलू और शकरकंद उबालकर दोपहर अपने डाइट में शामिल करने के लिए कहा जाता है।

  • बॉडी बिल्डिंग में अश्वगंधा का प्रयोग

अश्वगंधा को भारतीय जिंसेग भी कहा जाता है। यह हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने और बॉडी बिल्डिंग में मसल्स ग्रोथ में बहुत ही सहायक है।

शरीर में हानिकारक कैस्ट्रोल की मात्रा को कम करके यह हमारे हृदय को सुरक्षित रखने का कार्य भी बखूबी करता है। इसलिए पुरुषों और महिलाओं के लिए अश्वगंधा एक जनरल हेल्थ टॉनिक का कार्य करता है।


हल्दी वाला दूध पीने के 6 हैरतअंगेज फायदे। haldi wala dudh peene ke fayde

  • बॉडीबिल्डिंग में शतावरी का प्रयोग

दोस्तों शतावरी का प्रयोग मुख्य रूप से ऐसी महिलाओं को कराया जाता है जिनके शरीर में दुग्ध निर्माण की प्रक्रिया धीमी पड़ गई होती है। इसके प्रयोग से महिलाओं के स्तनों में समुचित दूध का निर्माण होना प्रारंभ हो जाता है।

किंतु इसका प्रयोग पुरुष भी शुक्र वृद्धि के लिए और मसल्स ग्रोथ के लिए करते हैं। अश्वगंधा और शतावरी के मिश्रण का प्रयोग दूध के साथ करने पर इस नुस्खे के पूरे लाभ प्राप्त होते हैं।

Disclaimer: दोस्तों अच्छे खान-पान के साथ-साथ  उचित व्यायाम करना भी आवश्यक होता है। पूरी जानकारी के लिए कृपया अपने dietitian से अवश्य सलाह लें।

Post a Comment

Please don't enter any spam link in the Comment Box- Thank You

और नया पुराने