-->

Ad

ajwain ke fayde aur nuksan

अजवाइन का परिचय

अजवाइन का इस्तेमाल मसाले में किया जाता है, यह एक औषधि भी है। अजवाइन खाने के फायदे अनेक हैं। इससे प्रयोग से अनेकों बीमारियां भी ठीक हो जाती हैं। जिसे अजवाइन के बारे में पता नहीं होता वह इसका लाभ नहीं ले पाते हैं। आइए जानते हैं आज वाइन के बारे में कि अजवाइन कितनी गुणकारी है।


अजवाइन क्या है ?

अजवाइन प्रकार की होती है ।1 अजवाइन, 2 जंगली अजवायन और 3 खुरासानी अजवायन। यह एक बीज होता है जो मसाले व औषधि के रूप में प्रयोग किया जाता है । यह कई बीमारियों को ठीक करने में फायदेमंद होता है। हमारे देश में हजारों सालों से प्रयोग की जाने वाली अजवाइन मसाले के साथ-साथ चूर्ण काढ़ा और रस के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है।


अजवाइन के फायदे

अजवाइन का प्रयोग और अजवाइन की खुराक के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। कि यह अजवाइन किन किन बीमारियों को ठीक करने में मदद करती हैं । इसका पूरा फायदा कैसे ले सकते हैं।


अजवाइन में हाजमा के फायदे

अजवाइन के गुण हाजमा शक्ति बढ़ाने में बहुत मदद करता है इसका सही तरीका पता होना चाहिए।


एसिडिटी की परेशानी में आजवाइन के फायदे

एसिडिटी की समस्या से राहत पाने के लिए अजवाइन के फायदे का इस तरह से करें।

  • अजवाइन को बारीक पीसकर उसमें थोड़ी मात्रा में हींग मिला ले और इसका लेप बना लें । इसको पेट पर लगाने से पेट के फूलने और पेट की गैस आदि समस्याओं में तुरंत लाभ होता है।
  • समान मात्रा में अजवाइन सेंधा नमक ,souvcharl नमक ,यवक्षार और सूखे आंवला लेकर इनका चूर्ण बना लें। इस चूर्ण को 2 से 3 ग्राम की मात्रा में सुबह शाम शहद के साथ सेवन करें इससे डकार की परेशानी भी ठीक हो जाती है।
  • Safed Musli ke fayde aur nuksan; सफेद मुसली के औषधीय गुण


मासिक धर्म की रुकावट में अजवाइन के फायदे

  • अजवाइन मासिक धर्म की रुकावट जैसी परेशानी में भी असरदार होता है ।3ग्राम अजवाइन के चूर्ण को गर्म दूध के साथ सुबह-शाम सेवन करें इससे मासिक धर्म में लाभ होगा।
  • 50 ग्राम पुराने गुड़ को 400 मिली जल में पका लें। इसे सुबह-शाम सेवन करें । मासिक धर्म की समस्या में लाभ होगा।

नपुंसकता ,शीघ्रपतन और शुक्राणु की कमी में अजवाइन से लाभ

3 ग्राम अजवाइन में 10 मिली सफेद प्याज का रस तथा 10 ग्राम शक्कर मिला ले । इसे दिन में तीन बार प्रयोग करें । 21 दिन में पूरा लाभ मिलेगा इसका प्रयोग से नपुंसकता ,शीघ्रपतन की समस्या और शुक्राणु की कमी में लाभ होता है।


शराब पीने की आदत छुड़ाने में अजवाइन के फायदे

जब शराब पीने की इच्छा हो और रोका ना जा सके तो आधा किलो अजवाइन को 4 लीटर पानी में पकाएं जब पानी आधा से भी कम रह जाए । तो छानकर शीशी में भरकर रख लें । शराब छुड़ाने में आपकी मदद करती है। यह काढ़ा भोजन से पहले एक कप पिलाएं।

10 से 10 ग्राम अजवाइन को दिन में दो से तीन बार चबाए इससे शराब पीने की इच्छा कम हो जाती है यह बहुत ही अधिक फायदेमंद होता है।

अजवाइन के उपयोगी भाग

अजवाइन के बीज और इसका तेल सर्वाधिक उपयोगी सिद्ध हुआ है।

अजवाइन के नुकसान

  1. हमेशा ताजी अजवाइन का ही प्रयोग करें क्योंकि पुरानी हो जाने पर इसका तैलीय अंश खत्म हो जाता है। तैलीय अंश खत्म हो जाने पर इसका पूरा लाभ नहीं मिलता।
  2. अजवाइन का अधिक सेवन करने से सिर दर्द की शिकायत हो सकती है।
  3. काढ़ा के स्थान पर रस का प्रयोग करना बेहतर होगा।

अजवाइन की खेती कहां होती है

भारत में अजवायन के पौधों की खेती राजस्थान ,पंजाब तथा गुजरात में की जाती है । मिस्त्र, ईरान तथा अफगानिस्तान में प्राप्त होता है।


अजवाइन का सेवन कैसे करें ?

अगर आप बीमारी में लाभ पाने के लिए अजवाइन का प्रयोग औषधि के रूप में करना चाहते हैं, तो आयुर्वेदिक चिकित्सक से परामर्श लें।

Tags:अजवाइन के नुकसान,अजवाइन गर्म है या ठंडी,दूध में अजवाइन खाने के फायदे,भुनी अजवाइन खाने के फायदे,सुबह खाली पेट अजवाइन खाने के फायदे,अजवाइन के पानी के फायदे,बवासीर में अजवाइन के फायदे,अजवाइन खाने का तरीका.


Post a Comment

Please don't enter any spam link in the Comment Box- Thank You

और नया पुराने