-->

Ad

Masterbation effect on kidney

अक्सर लोग हस्तमैथुन को लेकर तरह तरह की भ्रांतियों का शिकार हो जाते हैं। हस्तमथुन सही है या गलत, इसे करने से फायदा होता है या नुकसान, इसे किस उम्र से शुरू करना चाहिए, हस्तमैथुन के बाद पानी पीना सही है या गलत या हस्तमैथुन के बाद पेशाब करना चाहिए या नहीं वगैरह वगैरह।


जहां कुछ स्वास्थ्य विशेषज्ञ हस्तमैथुन को अच्छा बताते हैं, वही कुछ स्वास्थ्य विशेषज्ञ इसे अच्छा नहीं मानते।अगर वास्तविकता की बात की जाए तो हस्तमैथुन हर जाति वर्ग धर्म समुदाय के लोग करते हैं। यह सुरक्षित रूप से सुख प्राप्त करने का आसान तरीका है।


जिस प्रकार पुरुष हस्तमैथुन करते हैं ठीक उसी प्रकार महिलाएं भी हस्तमैथुन करती हैं, किंतु पुरुषों के लिए महिलाओं की अपेक्षा यह आसान प्रक्रिया है।


इसे भी जानें :भांग खाने के अद्भुत स्वास्थ्य लाभ, सही विधि और सावधानियां

जब कोई लड़की या लड़का किशोरावस्था (लगभग 13 से 17 वर्ष) में प्रवेश लेता है तो हार्मोन के प्रवाह के कारण अक्सर हस्तमैथुन कर बैठता है। यह बिल्कुल सामान्य बात है जो आपको यह बताता है कि आपका यौन विकास ठीक प्रकार से हो रहा है।


हस्तमैथुन के फायदे- benefits of masterbation

    • यौन सुख प्राप्त करने का साफ और सुरक्षित तरीका
    • किसी पार्टनर पर कोई निर्भरता नही
    • समय की कोई पाबंदी नहीं
    • यौन संचारित रोगों से बचाव
    • गर्भ धारण का कोई खतरा नहीं
    • कम वासना शांत करने का सरल उपाय आदि।

दोस्तों हस्तमैथुन के उपरोक्त फायदों के बावजूद इसके बहुत से नुकसान भी हैं-


हस्तमैथुन के नुकसान- Disadvantages of Masterbation

एक्सपर्ट की माने तो सप्ताह में एक दिन या महीने में 3 से चार बार हस्तमैथुन करने से कोई शारीरिक कमजोरी नहीं आती है। किंतु यदि इसे हद से ज्यादा किया जाए तो निम्न परेशानियां सामने आती हैं-

    • वीर्य का पतलापन
    • अंडकोष में दर्द होना
    • लिंग की नसों का ढीला पड़ जाना
    • आंखों के सामने अंधेरा छाना
    • आंखें अंदर की ओर धंसी दिखाई देना
    • हाथ में कम्पन होना
    • हाथ पैर सुन्न पड़ना
    • (बांझपन) बच्चा पैदा करने में परेशानी
    • शुक्राणु क्षीण हो जाना
    • किसी काम में मन न लगना
    • स्वपन दोष (night fall) होना
    • स्त्री को देखते ही pre cum निकल जाना आदि।

इसे भी जानें :अच्छे स्वास्थ्य के लिए 10 बेहतरीन फल (Top 10 Best Fruits for Health and Beauty)


हस्तमैथुन का किडनी पर प्रभाव- masterbation effect on kidney

विशेषज्ञों की माने तो हस्त मैथुन का किडनी पर कुछ खास प्रभाव नहीं पड़ता है, लेकिन जो व्यक्ति हस्तमैथुन करते वक्त वीर्य रोकने का प्रयास करते हैं या फिर हस्तमैथुन के बाद पेशाब नही करते उनको किडनी स्टोन बनने की संभावना रहती हैं।


बहुत से व्यक्तियों ने हस्तमैथुन करने के बाद पीठ में दर्द होने की शिकायत की है। ऐसा हस्तमैथुन के समय गलत तरीके से बैठने या kidne stone की वजह से हो सकता है।ऐसी समस्या होने पर होने पर चिकित्सक से जल्द सलाह लेनी चाहिए।


इसे भी जानें : जानिए अश्वगंधा के अद्भुत फायदे (How to use Ashwagandha in hindi)


हस्तमैथुन करते समय (सावधानियां)

    • अधिक जोर से लिंक पर घर्षण न करें
    • जोर जोर से लिंग को न झटके
    • हस्तमैथुन करने से पहले लिंग और हथेलियों पर कोई लुब्रिकेंट या चिकनाई लगाएं
    • हस्तमैथुन को आदत न बनाएं
    • एक ही दिन में बार बार हस्तमैथुन करने से बचें
    • हस्तमैथुन करने के तुरंत बाद पानी न पिएं
    • हस्तमैथुन के तुरंत बाद लिंग को न धोएं
    • हस्तमैथुन के बाद हुई ऊर्जा की कमी को पूरा करने के लिए थोड़ा सा गुड़ जरूर खा लें।

इसे भी जानें : पलक झपकते ही कम होगा मोटापा, जानिए क्या है सबसे सरल उपाए


यदि आप दिन में कई कई बार हस्तमैथुन करने लग गए हैं तो किसी मनोचिकित्सक से सलाह लें। साथ ही साथ पौष्टिक भोजन, फल और सूखे मेवे लें, एक्सरसाइज करें और अश्लील साहित्य से दूर रहें। धन्यवाद।



Tags: hastmaithun karne se nuksan ya fayda, hastmaithun ke fayde, hastmaithun ke fayde ladko ke liye,
hastmaithun ko kaise roke gharelu upay, hastmaithun ka ilaj medicine,
hastmaithun karne se pimple hota hai, jada hastmaithun karne se nuksan, hastmaithun karne se nuksan for female

Post a Comment

Please don't enter any spam link in the Comment Box- Thank You

और नया पुराने