-->

Ad

pista khane ke fayde


सूखे मेवे में पिस्ता बहुत मशहूर है क्योंकि शरीर के लिए पिस्ता बहुत फायदेमंद होता है।

पुरुषों के यौन संबंधी समस्याओं में भी पिसता फायदेमंद होता है। बहुत दिनों तक बीमार होने पर पिस्ता का सेवन बहुत लाभकारी होता है।

आयुर्वेद में इसका क्या मतलब है ? और इसके क्या गुण हैं ?आइए जानते हैं –


पिस्ता क्या है- What is Pistachio ?

पिस्ता का पेड़ लगभग 10 मीटर ऊंचा छोटा आम के वृक्ष के जैसा दिखता है। इसके पत्तों पर एक प्रकार का कटिकोष बनता है।

यह एक और से गुलाबी और दूसरी ओर से पीला सफेद रंग का होता है. इसके फल 18-20 मिमी लंबे एवं 6-12 मिमी प व्यासके होते हैं।



पिस्ता का फल का छिलका हल्के पीले से गहरे पीले रंग के होते हैं. आयुर्वेद के अनुसार पिस्ता कफ, पित्त, वात दोष से आराम दिलाने वाला शक्ति प्रदान करने वाला माना जाता है।

पिस्ता में फाइबर, कार्बोहाइड्रेट ,एमिनो एसिड आज ही पाए जाते हैं जो दस्त , खुजली आदि में फायदेमंद होता है।

इसके फल का प्रयोग मेवे की तरह पौष्टिक पकवान बनाने तथा औषधी कार्य में किया जाता है।


पिस्ता कहां पाया जाता है- where are pistachios found ?

पिस्ता ईरान ,अफगानिस्तान एवं मध्य एशिया में पाया जाता है। इसके अलावा विश्व में इटली, तुर्की ,सीरिया ,पाकिस्तान मिस्र एवं इराक में इसकी खेती की जाती है।


पिस्ता के फायदे- Benefits of Pistachio

पिस्ता केवल खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाता है बल्कि अनेक रोगों में भी पिस्ता के फायदे मिलते हैं चलिए इनके बारे में जानते हैं।


1. पिस्ता के सेवन से सिर दर्द में आराम- uses of Pistachio in headache 

आजकल की तनाव भरी और प्रतियोगिता वाली जीवनशैली के कारण सिर दर्द एक आम बीमारी हो गई है।

कंप्यूटर पर काम करने के कारण भी सिर में दर्द होने लगता है। पिस्ते के बीज के तेल को सिर पर लगाने या सुघने से सिर दर्द में राहत मिलती है।

इसे भी पढ़ें: अच्छे स्वास्थ्य के लिए 10 बेहतरीन फल (Top 10 Best Fruits for Health and Beauty)


2. बवासीर में पिस्ता के फायदे- Benefits of Pistachio in piles 

बवासीर को पाइल्स भी कहते हैं। यह एक दर्द दायक रोग है। बीमारी गंभीर हो जाने पर बवासीर के घाव से खून निकलने लगता है. रोगी को हर बार मल त्याग करने पर असहनीय पीड़ा से गुजरना पड़ता है।

इस दर्द से आराम पाने के लिए पिस्ता का इस्तेमाल करें। पिस्ता के पेड़ की छाल को पीसकर बवासीर के मस्सों पर लगाएं इससे दर्द से आराम मिलता है।

इसे भी पढ़ें: जानिए अश्वगंधा के अद्भुत फायदे (How to use Ashwagandha in hindi)


3. दस्त मे पिस्ता के फायदे Benefits of Pistachio in loose motions 

जो लोग बराबर दस्त से परेशान रहते हैं. वे पिस्ता उपयोग कर सकते हैं। पिस्ता के पेड़ की छाल का काढ़ा बना ले इसे पीने से दस्त पर रोक लगती हैं।


4. कमजोरी में फायदेमंद पिस्ता का सेवन- Benefits of Pistachio in physical weakness 

पिस्ता खाने के फायदे आप शारीरिक कमजोरी में ले सकते हैं। इससे शारीरिक और मानसिक दुर्बलता कम जोरी होती है। इसके लिए पिस्ता के बीजों को भूनने के बाद सेवन करें।


5. कैंसर को रोकने में पिस्ता का इस्तेमाल- Benefits of Pistachio in cancer symptoms 

पिस्ता का सेवन कैंसर की रोकथाम में सहायक होता है। एक रिसर्च के अनुसार पिस्ता में कैंसर रोधी तत्व पाए जाते हैं जो कि कैंसर को रोकने में मदद करते हैं।


पिस्ता का उपयोगी भाग- useful parts of Pistachio

आयुर्वेद मैं पिस्ता के बीज और पत्ते का प्रयोग औषधि के लिए किया जाता है।

इसे भी पढ़ें: जानिए अश्वगंधा के अद्भुत फायदे (How to use Ashwagandha in hindi)


पिस्ता का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए- how to use Pistachio in diet ?

आप पिस्ता का पूरा फायदा लेने के लिए और  पिस्ता का इस्तेमाल या सेवन करने से पहले आयुर्वेदिक चिकित्सक से सलाह जरूर लें।

यहां पर दी गई समस्त जानकारी केवल सूचना के उद्देश्य से है। इलाज के तौर पर इसका प्रयोग करने से पहले एक अच्छे चिकित्सक से अवश्य सलाह ले लें।


Tags:1 दिन में कितना पिस्ता खाना चाहिए,पुरुषों के लिए पिस्ता के फायदे,काजू, बादाम पिस्ता खाने के फायदे,नमकीन पिस्ता खाने के फायदे,सुबह खाली पेट पिस्ता खाने के फायदे,पिस्ता खाने के फायदे और नुकसान,पिस्ता खाने के नुकसान,diabetes me pista khane ke fayde 

Post a Comment

Please don't enter any spam link in the Comment Box- Thank You

और नया पुराने